नवरात्रि में करें ये अचूक टोटके, मां दुर्गा की कृपा से घर में आएगी सुख-समृद्धि

नवरात्रि में करें ये अचूक टोटके, मां दुर्गा की कृपा से घर में आएगी सुख-समृद्धि

शक्ति पूजा और उपासना का पावन पर्व शारदीय नवरात्रि आज से शुरू हो चुका है. नवरात्रि के ये पावन 9 दिन बहुत ही शुभ माने गए हैं. इस दौरान लोग मां की विधि-विधान से पूजा अर्चना करते हैं. धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक, इस दौरान देवी माता दुर्गा धरती पर आती हैं और अपने भक्तों पर कृपा बरसाती हैं. नवरात्रि के ये 9 दिन टोटकों-उपायों (Totke-Remedies) के लिए बहुत अहम माना गया है. लाख कोशिशों के बाद जिन लोगों की प्रगति रुक गई है या जो लोग सुख –समृद्धि चाहते हैं. उनके लिए नवरात्रि के ये टोटके बेहद लाभकारी साबित हो सकते हैं.

नवरात्रि में करें ये अचूक टोटके: शारदीय नवरात्रि में देवी मां दुर्गा के मंदिर में या घर के मंदिर में मां को लाल पताका अर्पित करें, इससे आपकी मनोकामना पूर्ण होगी. नवरात्रि के 9 दिनों तक माता रानी को 5 तरह के मेवे लाल चुनरी में रखकर अर्पित करें. उसके बाद ये प्रसाद खुद ग्रहण करें. इससे आपके रुके हुए सारे काम पूरे हो जायेंगे. नवरात्रि के दौरान पीपल के 3 या 5 पत्ते लें और उस पर राम नाम लिखें. इस पर कुछ मीठा रखकर हनुमान मंदिर में चढ़ाये.

मान्यता है कि ऐसा करने से धन लाभ होगा. शारदीय नवरात्रि के दौरान शुभ मुहूर्त में कन्‍या पूजन करें. उन्हें खीर पूड़ी खिलाएं तथा लाल कपड़ा भेंट कर उन्हें ससम्मान विदा करें. इससे मान-सम्‍मान में वृद्धि होती है. शारदीय नवरात्रि में चांदी का स्‍वास्तिक, हाथी, दीपक, कलश, श्रीयंत्र, मुकुट लेकर माता रानी के चरणों में अर्पित करें. नवरात्रि के आखिरी दिन इन सभी चीजों को गुलाबी कपड़े में बांधकर अपनी तिजोरी या पैसे रखने की जगह पर रखें. धार्मिक मान्यता है कि ऐसा करने से घर में सुख-समृद्धि और धन वैभव बना रहता है.

चैत्र नवरात्रि 2022 घटस्थापना का शुभ मुहूर्त
चैत्र शुक्ल प्रतिपदा तिथि: 01 अप्रैल, दिन में 11:53 बजे से 02 अप्रैल, दिन में 11:58 बजे तक
सुबह में घटस्थापना का मुहूर्त: प्रात: 06:10 बजे से प्रात: 08:31 बजे तक
दोपहर में घटस्थापना का मुहूर्त: 12 बजे से 12:50 बजे तक

चैत्र नवरात्रि 2022 के शुभ योग
चैत्र नवरात्रि का पहला दिन: 02 अप्रैल, घटस्थापना एवं मां शैत्रपुत्री की पूजा
सर्वार्थ सिद्धि योग: 01 अप्रैल, सुबह 10:40 बजे से 02 अप्रैल प्रात: 06:10 बजे तक
अमृत सिद्धि योग: 01 अप्रैल, सुबह 10:40 बजे से 02 अप्रैल प्रात: 06:10 बजे तक
शुभ समय: 12:00 पी एम से 12:50 पी एम

Religion