चेहरे पर डार्क स्पॉट्स से है परेशान तो इस तरह की डाइट लेना करें स्टार्ट, स्किन बनेगी हेल्दी और स्पॉटलेस

चेहरे पर डार्क स्पॉट्स से है परेशान तो इस तरह की डाइट लेना करें स्टार्ट, स्किन बनेगी हेल्दी और स्पॉटलेस

उम्र बढ़ने के साथ स्किन की हेल्थ में गिरावट आने लगती है और चेहरे पर दाग-धब्बे दिखायी देने लगते हैं। चेहरे पर दिखने वाले डार्क स्पॉट्स से जहां चेहरे की खूबसूरती कम होती है वहीं लोगों का कॉन्फिडेंस भी कम हो जाता है। ये डार्क स्पॉट्स काफी जिद्दी होते हैं और अगर इनकी तरफ ध्यान ना दिया जाए ये दाग धीरे-धीरे बढ़ने लगते हैं और डार्क और जिद्दी होने लगते हैं। चेहरे पर डार्क स्पॉट्स दिखने के कई कारण हो सकते हैं लेकिन कुछ पोषक तत्वों की कमी डार्क स्पॉट्स की इस समस्या को और भी गम्भीर बना सकती है।

डार्क स्पॉट्स कम करने वाले फूड्स: यहां आप पढ़ सकते हैं कुछ ऐसे ही पोषक तत्वों के बारे में जो अच्छी स्किन हेल्थ के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं और उन न्यूट्रिएंट्स की कमी के कारण लोगों को झाइयों या डार्क स्पॉट्स की परेशानी बहुत अधिक हो सकती है। साथ ही पढ़ें स्किन की न्यूट्रिशल रिक्वायरमेंट पूरी करने के तरीकों के बारे में और स्किन के लिए फायदेमंद फूड्स के बारे में।

विटामिन C: एक स्ट्रॉन्ग एंटीऑक्सीडेंट कहा जाने वाला विटामिन सी आपकी बॉडी और इम्यून सिस्टम के साथ-साथ स्किन के लिए बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है। विटामिन सी स्किन कोलाजन की प्रक्रिया में विशेष भूमिका निभाता है जो स्किन की रंगत को नियंत्रित करते हैं। विटामिन सी की मदद से स्किन को दाग-धब्बों से बचा पाना आसान हो सकता है। इस पोषक तत्व की आपूर्ति के लिए हरी पत्तेदार सब्जियां, नींबू, आंवला, कीवी फ्रूट और अमरूद जैसे फल और सब्जियों का सेवन किया जा सकता है।

विटामिन B: एनर्जी और अच्छी इम्यूनिटी दिलाने वाले विटामिन्स जैसे विटामिन बी की जरूरत स्किन को भी बहुत अधिक होती है। जब पर्याप्त मात्रा में विटामिन बी प्राप्त नहीं होता तो इससे स्किन की हेल्थ भी प्रभावित होती है। जिससे स्किन डल दिखायी देने लगती है और चेहरे पर डार्क स्पॉट्स भी उभरने लगते हैं। विटामिन बी का डेली इंटेक बढ़ाने के लिए आप डेयरी प्रॉडक्ट्स का सेवन कर सकते हैं। इसके अलावा, चुकंदर, गाजर, सेब और ताजी सब्जियों का सेवन करने से भी विटामिन बी की अधिक मात्रा प्राप्त हो सकती है।

विटामिन D: धूप और प्रदूषण से स्किन को सुरक्षित रखने के लिए लोग दिन में बाहर निकलने से बचते हैं। इसी तरह सुबह से लेकर शाम तक एसी कमरों या ऑफिस में बैठे रहने से भी स्किन को धूप के सम्पर्क में आने का मौका कभी-कभार ही मिल पाता है। धूप के कम सम्पर्क में आने के कारण बॉडी को जहां विटामिन डी नहीं मिल पाता वहीं स्किन की हेल्थ पर भी इसका असर पड़ता है। बता दें कि विटामिन डी स्किन में स्किन पर मेलानोसाइट्स सेल्स को काम करने में मदद करता है जो कि त्वचा पर पिगमेंटेशन की प्रक्रिया से जुड़े हुए हैं। विटामिन डी पर्याप्त मात्रा में मिलने से स्किन पिगमेंटेशन कम होता है और डार्क स्पॉट्स भी कम दिखायी देते हैं।

घरेलू नुस्खे